श्री खाटू श्यामजी की आरती लिरिक्स – Aarti lyrics – Hindi me khabar

ॐ जय श्री श्याम हरे, बाबा जय श्री श्याम हरे।
खाटू धाम विराजत, अनुपम रूप धरे।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

रतन जड़ित सिंहासन, सिर पर चंवर ढुरे।
तन केसरिया बागो, कुंडल श्रवण पड़े।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

गल पुष्पों की माला, सिर पार मुकुट धरे।
खेवत धूप अग्नि पर दीपक ज्योति जले।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

मोदक खीर चूरमा, सुवरण थाल भरे।
सेवक भोग लगावत, सेवा नित्य करे।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

झांझ कटोरा और घडियावल, शंख मृदंग घुरे।
भक्त आरती गावे, जय-जयकार करे।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

जो ध्यावे फल पावे, सब दुःख से उबरे।
सेवक जन निज मुख से, श्री श्याम-श्याम उचरे।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

श्री श्याम बिहारी जी की आरती, जो कोई नर गावे।
कहत भक्तजन, मनवांछित फल पावे।
ॐ जय श्री श्याम हरे..

जय श्री श्याम हरे, बाबा जी श्री श्याम हरे।
निज भक्तों के तुमने, पूरण काज करे।
ॐ जय श्री श्याम हरे.. ।

अन्य आरती देखें

आरती श्री लक्ष्मी जी
ॐ जय जगदीश हरे
आरती गजबदन विनायक
आरती कुंजबिहारी की
आरती श्री हनुमानजी
श्री रामायणजी की आरती
आरती श्री सत्यनारायणजी
श्री पुरुषोत्तम देव की आरती
श्री नरसिंह भगवान की आरती
श्री चित्रगुप्त जी की आरती
आरती श्री वैष्णो देवी
आरती श्री दुर्गाजी
एकादशी माता की आरती
आरती ललिता माता की
गायत्री माता आरती
रविवार आरती
बुधवार आरती
शुक्रवार आरती
शनिवार आरती
गुरुवार आरती
मंगलवार आरती
श्री खाटू श्यामजी की आरती
श्री तुलसी जी की आरती
श्री पार्वती माता जी की आरती
आरती अहोई माता की
आरती श्री गंगा जी
आरती श्री सरस्वती जी
आरती श्री गोवर्धन महाराज की
आरती श्री अम्बा जी
शनिदेव की आरती
आरती श्री सूर्य जी
शिवजी की आरती
आरती श्री रामचन्द्रजी
श्री बाँकेबिहारी की आरती
श्री गणेशजी की आरती